श्रीनगर : एक खूबसूरत शाम डल झील के नाम (A Memorable Evening in Dal Lake Srinagar - Hindi Blog)

जम्मू कश्मीर(Jammu Kashmir) की राजधानी श्रीनगर(Srinagar) हमारे इस धरती के स्वर्ग की यात्रा का पहला पड़ाव था। कश्मीर(Kashmir) की खूबसूरती बात हो और श्रीनगर(Srinagar) के डल झील(Dal Lake) की बात ना हो ऐसा हो ही नहीं सकता है। दिल्ली(Delhi) से हवाई यात्रा द्वारा हम लोग श्रीनगर(Srinagar) पहुँचे। आसमान से हिमालय पर्वतमाला के बर्फ से भरे शिखर नज़र आने लगे थे। श्रीनगर(Srinagar) में हवाई अड्डे से बाहर निकलते ही हमारे ड्राइवर बिलाल भट मिल गए जिन्होंने बहुत गर्मजोशी से हमारा स्वागत कश्मीर(Kashmir) की धरती पर किया। कश्मीर(Kashmir) के मौसम में एक खुशनुमा सा एहसास हम सभी महसूस कर रहे थे। स्थानीय लोगों द्वारा बोले जाने वाला कश्मीरी भाषा भी कानों में कुछ अलग सा मिठास घोल रहा था। ऐसे ही वक़्त के लिए शायर ख्वाज़ा मीर 'दर्द' ने ठीक ही कहा है कि - 

सैर कर दुनिया की ग़ाफ़िल ज़िंदगानी फिर कहाँ,
ज़िंदगानी ग़र कुछ रही तो नौजवानी फिर कहाँ। 

कुछ देर कार के सफर के बाद हम लोग अपने पूर्व निर्धारित होटल पर पहुँच गए। थोड़ा आराम करने के बाद हम लोग श्रीनगर(Srinagar) घूमने के लिए निकले। श्रीनगर(Srinagar) में घूमने और देखने योग्य बहुत सारे जगह है। ऐसे ही कुछ स्थानों के बारे में जानकारी नीचे साझा कर रहा हूँ  - 

डल झील में शिकारा राइड(Shikara Ride in Dal Lake)
डल झील(Dal Lake) कश्मीर की सबसे प्रसिद्ध झील है। डल झील(Dal Lake) को श्रीनगर(Srinagar) का दिल कहा जाए तो यह अतिश्योक्ति(Exaggeration) नहीं होगा। कश्मीर की जमीं पर पैर रखने के साथ ही हम लोग सबसे पहले डल झील(Dal Lake)  घूमने गए। लगभग 18 वर्ग किलोमीटर में फैली यह झील ऊँचे पहाड़ों से घिरी हुई है। डल झील(Dal Lake) को खूबसूरत बनाते हैं इसमें तैरते हुए शिकारे। शिकारा(Shikara) लकड़ी से बने एक विशेष आकार और बनावट के नाव होते हैं जो सिर्फ डल झील(Dal Lake) में ही दिखते हैं। इस नाव के दोनों सिरे नुकीले और पानी से ऊपर की ओर उठे होते हैं। एक सिरे पर नाव चलाने वाला गोलाकार चप्पू से नाव को आगे बढ़ाता है। शिकारे को बहुत की आकर्षक ढंग से सजाये जाते हैं और बीच में बैठने के लिए आरामदायक गद्दे लगे होते है। 

हम लोग भी शिकारे पर बैठ कर डल झील(Dal Lake) को देखने लगे। शिकारे बहुत धीमी रफ़्तार से चलते हैं और आस पास के सुन्दर दृश्यों को देखने में बहुत मज़ा आता है। डल झील(Dal Lake) में फव्वारे लगे हुए थे जो बहुत अच्छे लग रहे थे। डल झील(Dal Lake) में देखने के लिए बहुत सारे केंद्र(Points) है जैसे कबूतरखाना, नेहरू पार्क, चार चिनार। हम लोगों ने कश्मीरी परिधान पहनकर डल झील(Dal Lake) में फोटो भी खिंचवाए। झील में वाटर लिली(Water Lily), कमल के फूल(Lotus) और पानी के सतह पर तैरने वाली घांस इसे और अच्छा बना रही थी।  शिकारे के आगे बढ़ने के कारण इन घांसो के बीच से रास्ता बन जाता था जो शिकारे के आगे बढ़ने पर अपने आप गायब भी हो जा रहा था। 

डल झील(Dal Lake) में पानी के ऊपर शिकारे पर ही खाने पीने के दुकान हैं।  हम लोगों ने यहाँ पकौड़े खाये और कश्मीरी कहवा(Kahwa) का स्वाद लिया।  कहवा(Kahwa) कश्मीर का सबसे लोकप्रिय पेय पदार्थ है। इसको बनाने में बहुत सारे मसाले(Spices), सूखे मेवें(Dry Fruits) और शहद(Honey) का प्रयोग होता है। हमें कश्मीरी कहवा बहुत ही जायकेदार लगा। हम लोगों ने शिकारे पर ही स्थानीय फल जैसे खुबानी, आलू बुखारा, नाशपाती और सेव से बने फ्रूट चाट खाये। यह अलग अलग फलों का स्वादिष्ट मिश्रण था। शिकारे पर बहुत सारे दुकान भी थे जो डल झील(Dal Lake) में तैरकर सैलानियों को स्थानीय वस्तुएँ बेच रहे थे। डल झील(Dal Lake) में पानी के ऊपर ही एक बाजार भी है जहाँ के दुकानों पर शिकारे से ही जाया जा सकता है। यह सब देखना बहुत सुखद था कि कैसे डल झील(Dal Lake) की अपनी एक अलग दुनिया है जहाँ सब कुछ पानी के ऊपर नाव पर है। बाजार घूमने के बाद हम लोग फिरसे झील के बीच में आ गए। 

शाम ढलने के साथ ही डल झील(Dal Lake) और भी खूबसूरत लगने लगी थी। इस झील के चारों ओर सड़क पर लगे तेज़ प्रकाश इसकी शोभा बढ़ा रहे थे। डल झील(Dal Lake) से दूर पहाड़ी पर राजा हरिसिंह का महल और होटल ताज भी दिख रहा था। शाम के समय झील शांत होने लगी थी और शिकारे पर धीरे धीरे झील में घूमना बहुत अच्छा अनुभव दे रहा था। जैसा हमने डल झील(Dal Lake) के बारे में सुना था उससे कहीं अधिक अच्छा यहाँ आकर लगा। श्रीनगर(Srinagar) में आकर डल झील(Dal Lake) में शिकारा राइड(Shikara Ride) करना कश्मीर(Kashmir) यात्रा का एक सबसे महत्वपूर्ण और ज़रूरी हिस्सा है। 

डल झील का हाउस बोट(Shikara Ride in Dal Lake)
डल झील(Dal Lake) की दूसरी सबसे अच्छी चीज़ है इसके अंदर तैरने वाले हाउस बोट(House Boat)। यह एक बहुत ही सुन्दर बड़े आकर के नाव होते हैं जो देवदार की लकड़ी से बने होते है। इनमे से ज्यादातर हाउस बोट(House Boat) 40 वर्ष से ज्यादा पुराने है। सभी आलिशान सुविधाओं से लैस इन हाउस बोट(House Boat) में रहना एक बहुत अच्छा अनुभव था। हमारे कार ने हम लोगों को एक पूर्व निर्धारित घाट पर उतार दिया जहाँ से हाउस बोट(House Boat) तक शिकारे पर बैठ कर जाना था। थोड़े देर के शिकारा राइड के बाद हम लोग अपने हाउस बोट(House Boat) के पास पहुँचे। हाउस बोट(House Boat) की बाहरी दीवारों पर बहुत सुन्दर और महीन नक्काशी थी।  हाउस बोट(House Boat) एक महल सा सुन्दर दिख रहा था। हाउस बोट(House Boat) के अंदर कमरे बने हुए थे जो अंदर से भी बहुत अच्छे ढंग से सजाये गए थे। हाउस बोट(House Boat) के फर्श पर बहुत नरम और मखमली कालीन बिछी हुई थी। यह एक बहुत आलीशान और भव्य हाउस बोट(House Boat) था। 

हाउस बोट(House Boat) से जुड़ा हुआ ही इसका बैठने का खुला हिस्सा था जो लड़की के ऊपर ही बना था। चारों ओर झील का पानी और उसके ऊपर हाउस बोट(House Boat) पर हम लोग थे। यहाँ से बैठकर झील और पहाड़ का दृश्य और भी अच्छा लग रहा था। शाम होने पर लाइट की रौशनी में पूरी झील जगमग होने लगी थी। हम लोग बहुत देर रात तक हाउस बोट(House Boat) के बाहर बैठकर बाते करते रहे।

सुबह के समय सूर्योदय(Sunrise) का नज़ारा देखने के लिए हम थोड़ा जल्दी उठे। डल झील(Dal Lake) सूरज की लाल रौशनी में सोने जैसी चमक रही थी। शिकारे पर फूल बेचने वाले भी घूम रहे थे जो हमारे हाउस बोट(House Boat) के पास भी आये। शिकारे रंग बिरंगे फूलों से भरे बेहद अच्छे लग रहे थे।  हाउस बोट(House Boat) में रुकने का एक अलग ही मज़ा था। कश्मीर(Kashmir) में हमारी यात्रा का प्रारंभ श्रीनगर के डल झील(Dal Lake) में बहुत भव्य तरीके से हुआ। 

मुगल गार्डन(Mughal Garden)
श्रीनगर(Srinagar) के प्रमुख मुग़ल गार्डन में शालीमार बाग(Shalimar Garden), निशात बाग(Nishat Garden), चश्मा शाही(Chashma Shahi), परी महल(Pari Mahal) और वेरीनाग बाग(Verinag Garden) शामिल हैं। इनमे शालीमार बाग(Shalimar Garden) सबसे बड़ा बाग है। सभी बाग पहाड़ों की घाटियों में बनाये गए हैं। इन सभी बागों में पानी के फव्वारे(Water Fountain) लगाए गए हैं। इन खूबसूरत बागों का निर्माण 16वीं और 17वीं शताब्दी में जहाँगीर और दूसरे मुग़ल शासको ने करवाया था। इन बागों में लगे चिनार के पेड़ इसकी सुंदरता को और निखार देते हैं। 

शंकराचार्य मंदिर(Shankracharya Temple)
शंकराचार्य मंदिर(Shankracharya Temple) कश्मीर के सबसे पुराने मंदिरों में से एक है। भगवान शिव को समर्पित इस मंदिर की ऊँचाई लगभग 1000 फीट है। यह डल झील(Dal Lake) के पास ही एक पहाड़ी पर स्थित है। यह मंदिर अपनी अनूठी वास्तुकला के लिए भी जाना जाता है। शंकराचार्य मंदिर(Shankracharya Temple) से डल झील(Dal Lake) और श्रीनगर(Srinagar) का नज़ारा बहुत अच्छा लगता है। 

लाल चौक(Lal Chowk)
श्रीनगर(Srinagar) की बात हो और लाल चौक(Lal Chowk) का जिक्र न हो ऐसा हो ही नहीं सकता है। यह चौक अपने राजनैतिक सभाओं के लिए मशहूर है। चौक के मध्य में एक घंटाघर(Clock Tower) है जिसका निर्माण वर्ष 1980 में हुआ था। यह स्थान खरीदारी(Shopping) के लिए प्रसिद्ध है और आप यहाँ से कश्मीरी सामानों को खरीद सकते हैं। 

ट्यूलिप गार्डन(Tulip Garden)
इसका पूरा नाम इंदिरा गाँधी ट्यूलिप गार्डन(Indira Gandhi Tulip Garden) है। डल झील(Dal Lake) के पास जबरवान के पहाड़ों(Zabarwan Hills) पर स्थित ट्यूलिप गार्डन कश्मीर(Kashmir) आने वाले सैलानियों में बहुत लोकप्रिय है। यहाँ 65 से ज्यादा ट्यूलिप की किस्में हैं जिनकी पूरी संख्या 15 लाख से ज्यादा है। हर साल मार्च के महीने में जब ट्यूलिप के फूल एक साथ खिल जाते है तो इस गार्डन को सैलानियों के लिए खोल दिया जाता है। 

शिकारा बाजार(Market on Shikara)
डल झील(Dal Lake) में सुबह के 5 बजे सब्ज़ी के बाजार लगते है। रंग बिरंगे सब्ज़िओं से सजे ढेर सारे शिकारे हर सुबह अपनी ताज़ी सब्ज़ियों को यहाँ बेचते है जिसे देखने के लिए सैलानियों को भीड़ लगी रहती है। फूलों से भरे शिकारे भी यहाँ नज़र आते हैं। इसके अलावा डल झील(Dal Lake) में खाने के भी स्थान है जहाँ कहवा, मैगी, पकौड़े इत्यादि मिलते है। डल झील(Dal Lake) में ही एक बाजार है जहाँ शिकारा राइड करके जा सकते हैं। इन बाज़ारों में कश्मीर(Kashmir) का प्रसिद्ध पश्मीना(Pashmina) शॉल के बहुत सारे दुकान हैं। हमारे शहरों के बाज़ारों की तरह ही डल झील(Dal Lake) में भी यह बाजार बहुत सुव्यवस्थित तरीके से बनाया गया है। बस अंतर यह है कि गाड़ी या पैदल ना जाकर यहाँ शिकारा से जाना पड़ेगा। 

कश्मीर(Kashmir) की यात्रा में श्रीनगर(Srinagar) घूमना एक बहुत अच्छा अनुभव था। श्रीनगर(Srinagar) के सभी दर्शनीय स्थानों का रखरखाव बहुत अच्छे तरीके से किया गया है। जब कभी भी आप कश्मीर(Kashmir) यात्रा पर हों तो श्रीनगर(Srinagar) में इन घूमने योग्य स्थानों पर ज़रूर जाइये। 

****************

श्रीनगर में ये करना ना भूलें  डल झील में शिकारा राइड, डल झील में हाउस बोट में ठहरना, कश्मीरी सामानों की खरीदारी, ट्यूलिप गार्डन देखना, फोटोग्राफी।  
श्रीनगर कैसे पहुँचे  : निकटतम हवाई अड्डा श्रीनगर में स्थित है तथा निकटम रेलवे स्टेशन भी जम्मू में 290 किलोमीटर दूर है जहाँ के लिए देश के सभी बड़े शहरों से ट्रैन मिलती हैं। जम्मू, लेह, दिल्ली चंडीगढ़ इत्यादि स्थानों से श्रीनगर आप सड़क मार्ग से आसानी से पहुँच सकते हैं।  
श्रीनगर जाने सबसे अच्छा समय : वैसे तो पूरे साल श्रीनगर में पर्यटक आते रहते हैं लेकिन गर्मियों में मार्च से अक्टूबर तक श्रीनगर जाने का सबसे अच्छा समय हैं। सर्दियों में दिसंबर और जनवरी में बर्फबारी(Snowfall) का लुफ्त लेने आप श्रीनगर आ सकते हैं। 
श्रीनगर जाने में लगने वाला समय  :   2 दिन / 1  रात











Video Links Below 


Blogger Name: Pramod Kumar Kushwaha
For more information & feedback write email at : pktipsonline@gmail.com

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

कश्मीर : धरती का स्वर्ग (Trip to Kashmir : Paradise on Earth - Hindi Blog)

मालवण : सिंधुदुर्ग की शान ( Trip to Malvan - Hindi Blog )

महाबलेश्वर और पंचगनी : एक प्यारा सा हिल स्टेशन (Trip to Mahabaleshwar & Panchgani - Hindi Blog)

समुद्र में मोती : अंडमान निकोबार द्वीप समूह की यात्रा (Andaman Trip - Hindi Blog)

चित्रकूट : जहाँ कण कण में बसे हैं श्रीराम (Trip to Chitrakoot - Hindi Blog)

प्राचीन गुफाओं और मंदिरों का शहर : बादामी, पट्टदकल और ऐहोले (Trip to Badami, Pattadkal & Aihole - Hindi Blog)

ऊटी और कुन्नूर : नीलगिरी का स्वर्ग (Trip to Ooty & Coonoor - Hindi Blog)

कास पठार : महाराष्ट्र में फूलों की घाटी (Trip to Kaas Plateau : Maharashta's Valley of Flower-Hindi Blog)

पालखी : पंढरपुर की धार्मिक यात्रा(Palkhi Yatra to Pandharpur - Hindi Blog)